शनिवार, अप्रैल 20, 2024
शनिवार, अप्रैल 20, 2024

होमFact Checkक्या स्पीड ब्रेकर के निर्माण पर अरविन्द केजरीवाल ने सड़कों पर लगवाए...

क्या स्पीड ब्रेकर के निर्माण पर अरविन्द केजरीवाल ने सड़कों पर लगवाए बधाई के पोस्टर? जानें वायरल पोस्टर का पूरा सच

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर विज्ञापन को लेकर विपक्ष के लोग हमेशा तंज कसते रहते हैं। हमेशा विपक्ष द्वारा दावा किया जाता है कि अरविंद केजरीवाल राज्य सरकार के प्रचार में करोड़ों रूपए खर्च करते हैं। अपनी जिम्मेदारियों से भागकर वे लोगों को गुमराह करते हैं। विपक्ष का कहना है कि केजरीवाल हमेशा विज्ञापनों पर अधिक से अधिक पैसा खर्च करते हैं, फिर चाहे वो चुनाव प्रचार का समय हो या महामारी का। पिछले साल बीजेपी ने एक आरटीआई के ज़रिए, दावा किया था कि अरविंद केजरीवाल ने कोरोना काल के 4 महीनों में 48 करोड़ रूपए विज्ञापनों पर खर्च किया था। ऐसे में सोशल मीडिया पर अरविंद केजरीवाल का एक पोस्टर वायरल हो रहा है। इस पोस्टर के ज़रिए केजरीवाल लोगों को स्पीड ब्रेकर निर्माण की बधाई दे रहे हैं। वायरल पोस्टर में लिखा है, “बधाई! सागरपुर सब्जीमंडी के पास स्पीड ब्रेकर का निर्माण किया गया है।”

अरविंद

लेख लिखे जाने तक इस ट्वीट को 1300 से ज्यादा लोगों ने रिट्वीट किया है और 7200 से ज्यादा यूज़र्स ने इसे लाइक भी किया है।

अरविन्द केजरीवाल के पोस्टर की तस्वीर को फेसबुक और ट्विटर पर अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

Crowd Tangle टूल पर किए गए विश्लेषण से पता चलता है कि वायरल दावे को सोशल मीडिया पर कई यूज़र्स द्वारा शेयर किया गया है।

हमारे आधिकारिक WhatsApp नंबर (9999499044) पर भी वायरल दावे की सत्यता जानने की अपील की गई थी।

वायरल पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न को यहां, यहां, यहां और यहां देखा जा सकता है।  

Fact Check/Verification

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के वायरल पोस्टर में किए जा रहे दावे की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल शुरू की। कुछ कीवर्ड्स के माध्यम से गूगल खंगालने पर हमें वायरल दावे से संबंधित कोई आधिकारिक रिपोर्ट नहीं मिली। खोज के दौरान हमें Best Hindi News और Perform India द्वारा 24 जून 2021 को वायरल पोस्टर पर प्रकाशित की गई खबरें मिली। इन दोनों रिपोर्ट्स के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल द्वारा स्पीड ब्रेकर का निर्माण किए जाने पर उन्हें बधाई दी गई है।

Best Hindi News और Perform India द्वारा प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट्स के आर्काइव वर्ज़न को यहां और यहां देखा जा सकता है।

खोज आगे बढ़ाते हुए हमने वायरल पोस्टर को Google Reverse Image Search की मदद से खंगालना शुरू किया। पड़ताल के दौरान हमें सुप्रीम कोर्ट के वकील Prateek Som का 8 नवंबर 2020 को किया गया एक ट्वीट मिला। इस ट्वीट से ज़रिए मिली जानकारी से हमें पता लगा कि पुराने पोस्टर को फोटोशॉप्ड की मदद से एडिट कर भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

इस ट्वीट के आर्काइव वर्ज़न को यहां देखा जा सकता है।

नीचे दोनों तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह पुराने पोस्टर के साथ छेड़छाड़ की गई है।

अरविंद
अरविंद

अलग-अलग कीवर्ड्स की मदद से खोजने पर हमें 6 नवंबर 2020 को Zee News और Indian Express द्वारा प्रकाशित की गई रिपोर्ट्स मिली। इन दोनों रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली को हरियाणा से जोड़ने वाले रोहतक रोड के पुनर्विकास हेतु कार्य शुरू किया गया था। जखीरा गोलचक्कर से मुंडका तक करीब 13.33 लंबी सड़क का पुनर्विकास का कार्य किया गया था।

पड़ताल के दौरान आम आदमी पार्टी के आधिकारिक फेसबुक पेज पर 6 नवंबर 2020 को पोस्ट की गई एक तस्वीर मिली। यह तस्वीर उस दौरान की है, जब अरविंद केजरीवाल ने जनता को संबोधित करते हुए कहा था कि, “जखीरा गोलचक्कर से मुंडका रोहतक रोड की मरम्मत कराने का कार्य शुरू किया जा रहा है।”

आम आदमी पार्टी के आधिकारिक YouTube चैनल पर 6 नवंबर 2020 को अपलोड की गई एक वीडियो मिली। इस वीडियो में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जनता को संबोधित करते हुए कर रहे हैं, “रोहतक रोड के पुनर्विकास का कार्य शुरू किया जा रहा है।”

वायरल दावे की तह तक जाने के लिए हमने सागरपुर के विधायक विनय मिश्रा से संपर्क किया। बातचीत में उन्होंने हमें बताया कि वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा बिल्कुल गलत है। उन्होंने हमें बताया कि आम आदमी पार्टी द्वारा वायरल दावे पर पार्टी द्वारा एक वीडियो बनाई गई है। ‘आप’ कार्यकर्ता पुनीत शर्मा द्वारा की गई ग्राउंड रिपोर्ट को यहां देखा जा सकता है। इस रिपोर्ट में वायरल दावे का पर्दाफाश किया गया है, सागरपुर में किसी भी स्पीड ब्रेकर का निर्माण नहीं किया गया है।

Read More: क्या केंद्र सरकार ने वैक्सीन जुटाने के मामले में अभिनेता सोनू सूद पर दर्ज किया केस? फेक दावा हुआ वायरल

Conclusion

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्टर का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि अरविंद केजरीवाल द्वारा सागरपुर में किसी रोड ब्रेकर निर्माण का पोस्टर नहीं लगाया गया है। पड़ताल के दौरान पता चला कि कि एक पुराने पोस्टर को एडिट करके भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।  


Result: False


Our Sources

Zee News

Indian Express

आम आदमी पार्टी

YouTube  

Facebook


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular