रविवार, मई 19, 2024
रविवार, मई 19, 2024

होमFact CheckFact Check: ईसाई संगठन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में उमड़ी भीड़ का...

Fact Check: ईसाई संगठन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में उमड़ी भीड़ का वीडियो राहुल गांधी की जनसभा का बताकर हुआ वायरल

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

Claim
राहुल गाँधी के समर्थन में उमड़े जनसैलाब का वीडियो।
Fact
यह वीडियो ईसाई संगठन ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस’ द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम का है।

देश में हो रहे लोकसभा चुनाव के लिए तमाम राजनीतिक पार्टियों की प्रचार रैलियां शुरू हो चुकी हैं। इसी बीच एक मैदान में इकट्ठा भारी भीड़ का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो को शेयर करते हुए यूजर्स दावा कर रहे हैं कि यह वीडियो राहुल गाँधी के समर्थन में उमड़े जनसैलाब का है।

वायरल वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा गया है कि ”राहुल गाँधी के समर्थन मे ये जन सैलाब मोदी जी की नींद हराम कर देगा #LokSabaElection2024”। एक्स पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है।

Courtesy: X/@divyakumaari

Fact Check/Verification

राहुल गाँधी के समर्थन में उमड़े जनसैलाब के दावे के साथ वायरल हो रहे इस वीडियो के की-फ्रेम्स को हमने रिवर्स इमेज सर्च किया। परिणाम में हमें ‘होसन्ना फ़ेलोशिप’ नामक फेसबुक पेज द्वारा पोस्ट किया गया एक वीडियो मिला, जिसमें वायरल क्लिप मौजूद है।

Courtesy: FB/Hosanna Fellowship

प्राप्त वीडियो और वायरल क्लिप के दृश्यों का मिलान करने पर हमने पाया कि दोनों वीडियो एक ही स्थान के हैं। ‘होसन्ना फ़ेलोशिप’ नामक फेसबुक पेज द्वारा किये गए पोस्ट के कैप्शन में ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस की ओर से टैबरनेकल के 47वें अंतर्राष्ट्रीय पर्व को सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए गौरव’ लिखा हुआ है।

Comparison between claim video and video shared by hosanna Fellowship FB page

जांच में आगे हमने गूगल पर ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस’ कीवर्ड सर्च किया, जिससे हम होसन्ना मिनिस्ट्रीस ऑफिसियल नामक इंस्टाग्राम अकाउंट तक पहुंचे। 8 मार्च, 2024 को इस अकाउंट से पोस्ट किए गए वीडियो में वायरल क्लिप मौजूद है।

Courtesy: Instagram/@hosannaministries_official

जांच में हमें होसन्ना मिनिस्ट्रीस ऑफिसियल नामक यूट्यूब चैनल पर 13 मार्च 2024 को अपलोड किया गया वीडियो मिला। इस वीडियो में भी वायरल वीडियो के समान भीड़ के बीच में लाइटें उसी स्थान पर नज़र आती हैं। वीडियो के कैप्शन में भी इसे ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस का 47वां टैबरनेकल पर्व बताया गया है।

YouTube post by @HosannaMinistriesOfficial.

जांच में आगे हमने ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस’ और ‘फीस्ट ऑफ टैबरनेकल्स’ से जुड़ी जानकारी खोजी। होसन्ना मिनिस्ट्रीस की आधिकारिक वेबसाइट पर दी गयी जानकारी में हमने पाया कि यह एक ईसाई संगठन है। वेबसाइट पर दी गयी जानकारी के अनुसार, होसन्ना मिनिस्ट्रीज़, आंध्र प्रदेश के गुंटूर में स्थित है और भारत का सबसे बड़ा चर्च है, जहां एक समय पर 50,000 से अधिक लोग एक साथ इकट्ठा होकर पूजा करते हैं।

Official website of Hosanna Ministries.

द हिन्दू द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट में गुंटूर में आयोजित होने वाले होसन्ना मिनिस्ट्रीस के सम्मेलन के बारे में जानकारी मिलती है। यहाँ बताया गया है कि होसन्ना मिनिस्ट्रीस हर वर्ष मार्च महीने में ‘फीस्ट ऑफ टैबरनेकल्स’ नामक कार्यक्रम का आयोजन करते हैं। एक हफ्ते चलने वाला ‘फीस्ट ऑफ टैबरनेकल्स’ यहूदियों का एक त्योहार है, जहाँ भारी संख्या में लोग हिस्सा लेने आते हैं।

पड़ताल में हमने ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस’ के हेड क्वाटर्स के एक ऑफिसियल से संपर्क करके इस वीडियो के बारे में पूछा। फ़ोन पर हुई बातचीत के दौरान उन्होंने स्पष्ट किया कि वायरल वीडियो ‘फीस्ट ऑफ टैबरनेकल्स’ नामक कार्यक्रम का ही है।

Conclusion

इस तरह हमारी जांच से यह स्पष्ट हो गया कि राहुल गाँधी के समर्थन मे उमड़े जनसैलाब का बताकर वायरल हुआ यह वीडियो असल में ‘होसन्ना मिनिस्ट्रीस’ द्वारा आयोजित एक ईसाई कार्यक्रम का है।

Result: False

Sources


Facebook Post by Hosanna Fellowship Facebook page.
Instagram Post by hosannaministries_official.
Youtube post by @HosannaMinistriesOfficial.
Official website of Hosanna Ministries.
Report by The Hindu on 26th February 2020.
Article by International Christian Embassy Jerusalem.
Telephonic Conversation with the official at Hosanna Ministries Headquarters.


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular