मंगलवार, जून 25, 2024
मंगलवार, जून 25, 2024

होमFact CheckWeekly Wrap: NDTV द्वारा तनिष्क स्टोर को लेकर किए गए दावे सहित...

Weekly Wrap: NDTV द्वारा तनिष्क स्टोर को लेकर किए गए दावे सहित दिल्ली पुलिस के प्रदर्शन की तस्वीर को गलत तरीके से शेयर किए जाने तक

इस सप्ताह सोशल मीडिया पर कई दावे सुर्ख़ियों में रहे। NDTV सहित कई मीडिया संस्थानों ने गुजरात स्थित तनिष्क स्टोर को लेकर फेक दावा किया तो वहीं इंडिया टुडे ने आरएसएस प्रमुख द्वारा दिए गए बयान को गलत तरीके से प्रकाशित किया था। हमारी टीम ने ऐसे ही कई मुद्दों पर किए गए झूठे दावों का पर्दाफाश किया है।

क्या भीड़ ने गांधीधाम स्थित तनिष्क स्टोर पर किया था हमला?

NDTV ने तनिष्क स्टोर पर भीड़ द्वारा हमला किए जाने की एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी। बाद में इस खबर को कई संस्थानों ने प्रकाशित किया था। हमारी पड़ताल में यह दावा झूठा साबित हुआ।

पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

क्या मोहन भागवत ने मुस्लिमों को लेकर कही यह बात?

इंडिया टुडे ने मोहन भागवत के हवाले से एक लेख प्रकाशित किया था। लेख के मुताबिक मोहन भागवत ने कहा था कि यदि मुसलमानों को भारत में रहना है तो हिन्दुओं की सर्वोच्चता स्वीकार करनी होगी। हमारी पड़ताल में वायरल दावा झूठा साबित हुआ।

पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ सकते हैं।

क्या पुलिस ने सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन?

सोशल मीडिया पर दावा किया गया था कि पुलिस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। हमारी पड़ताल में पता चला कि दिल्ली पुलिस द्वारा साल भर पहले वकीलों के खिलाफ किए गए प्रदर्शन की तस्वीर को एडिट करके शेयर किया गया था।

पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

क्या कांग्रेस नेताओं के बीच बैठी महिला हाथरस की कथित नक्सली भाभी है?

सोशल मीडिया पर हाथरस काण्ड के बाद कई फेक दावे शेयर किए गए। ऐसे ही कांग्रेस नेताओं के साथ बैठी एक महिला को हाथरस की कथित नक्सली भाभी बताया गया था। हमारी पड़ताल में वायरल दावा झूठा साबित हुआ।

पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

एमपी के बीजेपी नेता ने यूपी की महिलाओं को लेकर नहीं की अभद्र टिप्पणी

सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने एक वीडियो पोस्ट करते हुए दावा किया था कि एमपी के बीजेपी नेता नन्द कुमार यूपी की महिलाओं को लेकर अभद्र टिप्पणी कर रहे हैं। हमारी पड़ताल में पता चला कि उन्होंने एडिटेड वीडयो क्लिप शेयर की थी।

पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें:checkthis@newschecker.in

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular