सोमवार, मई 16, 2022
सोमवार, मई 16, 2022

होमFact CheckWeekly Wrap: यूपी के धार्मिक स्थलों में लगे लाउडस्पीकरों पर सख्ती से...

Weekly Wrap: यूपी के धार्मिक स्थलों में लगे लाउडस्पीकरों पर सख्ती से लेकर अलवर में मंदिर तोड़े जाने तक, इस हफ्ते वायरल हुए टॉप 5 फेक दावों का फैक्ट चेक

यूपी के धार्मिक स्थलों में लगे लाउडस्पीकरों पर राज्य सरकार द्वारा की गई सख्ती मीडिया में छाई रही। इस दौरान कई ऐसे वीडियो वायरल हुए जिन्हें यूपी का बताया गया, लेकिन वे किसी अन्य राज्य के थे या फिर उनका लाउडस्पीकरों पर की गई सख्ती से कोई वास्ता नहीं था। इसी तरह से राजस्थान के अलवर में तोड़े गए मंदिर को लेकर भी कई सोशल मीडिया यूजर्स ने अलग-अलग कंटेंट शेयर करते हुए भ्रम फैलाया। इसके अलावा देश के कई राज्यों में हो रही बिजली की किल्लत को लेकर भी फेक दावे शेयर किये गए। हमारी टीम ने कुछ ऐसे ही फेक दावों का फैक्ट चेक किया है, जिसे इस लेख के माध्यम से पढ़ा जा सकता है।

लाउडस्पीकर पर लगी पाबन्दी के बाद सड़क पर अजान देते लोगों का यह वीडियो यूपी का नहीं है

सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिए दावा किया गया कि यूपी के धार्मिक स्थलों में लगे लाउडस्पीकरों पर पाबन्दी लगाए जाने के बाद लोग सड़क पर नमाज पढ़ रहे हैं। हमारी पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ। पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

क्या अलवर में मंदिर तोड़े जाने के बाद वैभव गहलोत की सभा में लगे मोदी-मोदी के नारे?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर दावा किया गया कि जोधपुर में राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत की एक सभा में ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगे। हमारी पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ। पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन द्वारा बिजली को लेकर दिए गए पुराने बयान को अभी का बताया गया

सोशल मीडिया पर अखबार की एक कटिंग को शेयर करते हुए दावा किया गया कि बिजली संकट को लेकर झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन ने कहा है कि जब लोगों ने उन्हें वोट नहीं दिया तो उन्हें बिजली से कोई मतलब नहीं है। हमारी पड़ताल में शेयर किया गया दावा भ्रामक साबित हुआ। पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

क्या खाने को लेकर रोजेदारों के बीच हो गई लड़ाई?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करते हुए दावा किया गया कि रमजान के इस महीने में खाने को लेकर रोजेदारों के बीच जमकर मारपीट हो गई। हमारी पड़ताल में वायरल दावा भ्रामक साबित हुआ। पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

एक दूसरे को थप्पड़ मरते दूल्हा-दुल्हन के स्क्रिप्टेड वीडियो को सच मान बैठे लोग

जयमाल के मंच पर दूल्हा-दुल्हन द्वारा एक दूसरे को थप्पड़ मारते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो को सच मानकर यूजर्स अलग-अलग कैप्शन के साथ इसे शेयर करने लगे। हमारी पड़ताल में पता चला कि यह वीडियो स्क्रिप्टेड था। पूरा फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

इसे भी पढ़ें…जयमाल के स्टेज पर एक दूसरे को थप्पड़ मारते दूल्हा-दुल्हन का यह वायरल वीडियो स्क्रिप्टेड है

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular