मंगलवार, मई 21, 2024
मंगलवार, मई 21, 2024

होमFact CheckFact Check: खनौरी बॉर्डर पर हुई थी किसान शुभकरण सिंह की मौत,...

Fact Check: खनौरी बॉर्डर पर हुई थी किसान शुभकरण सिंह की मौत, शंभू बॉर्डर के असंबंधित वीडियो के जरिए भ्रामक दावा वायरल

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

Claim
वायरल वीडियो शुभकरण सिंह का है, जिसकी मौत ऊंचे साईन बोर्ड से गिरने की वजह से हुई है.

Fact
वायरल वीडियो शंभू बॉर्डर का है और शुभकरण सिंह की मौत खनौरी बॉर्डर पर हुई थी.

सोशल मीडिया पर पंजाब-हरियाणा के खनौरी बॉर्डर पर 21 फ़रवरी को कथित तौर पर पुलिस की गोली से मारे गए युवा किसान शुभकरण सिंह की मौत को लेकर एक दावा वायरल हो रहा है. वायरल दावे को एक वीडियो के सहारे साझा किया जा रहा है और कहा जा रहा है कि शुभकरण सिंह की मौत पुलिस की गोली से नहीं, बल्कि 20 फुट ऊचें साईन बोर्ड पर झंडा लगाते समय फिसलकर गर्दन के बल गिरने से हुई है.

हालांकि, हमने अपनी जांच में पाया कि वायरल वीडियो शंभू बॉर्डर का है और शुभकरण सिंह की मौत खनौरी बॉर्डर पर हुई है. साथ ही यह वीडियो शुभकरण की मौत से करीब एक हफ्ते पहले से ही इंटरनेट पर मौजूद है.

बीते 13 फ़रवरी को किसानों ने एमएसपी सहित अन्य मांगों को लेकर दिल्ली कूच का ऐलान किया था. हालांकि, पंजाब से आए किसानों को हरियाणा पुलिस ने रोकने के लिए बैरिकेड लगा दिए. इसके अलावा किसानों के ऊपर बल प्रयोग भी किया गया. जिसके बाद किसान संगठनों ने पंजाब-हरियाणा के खनौरी बॉर्डर और शंभू बॉर्डर पर ही रुकने का फैसला किया. बीते 4 मार्च को किसान संगठनों ने 6 मार्च को फिर से अपनी मांगों को लेकर दिल्ली चलने का आह्वान किया है.     

वायरल हो रहा वीडियो 26 सेकेंड का है, जिसमें एक युवक एक सड़क पर लगे ऊँचे साईन बोर्ड से गिरता हुआ दिखाई दे रहा है. इस दौरान वहां कई और लोग भी दिखाई दे रहे हैं. वीडियो में पंजाबी टेक्स्ट भी मौजूद है, जिसका अनुवाद है “शंभू मुंडा गिर गया”.

वीडियो को लंबे कैप्शन के साथ सोशल मीडिया प्लेटफ़ार्म X पर शेयर किया गया है, जिसमें लिखा है, “शम्भू बार्डर पर एक लड़के कि मृत्यु होती है!और बताया जाता है कि हरियाणा पुलिस कि गोली से उसकी मृत्यु हुई है!उसका पोस्टमार्टम नहीं करने दिया जाता है! उस लड़के के शव का दाह-संस्कार तब तक नहीं किया जायेगा जब तक मांगें पूरी नहीं होती,आखिर पंजाब सरकार 1 करोड़ का मुआवजा और उसकी बहन को सरकारी नौकरी देने कि मांग मान लेती है! उसकी मौत का सत्य•⁩ युवक की मौंत हाईवे पर लगे 20 फुट ऊचें साईन बोर्ड पर झंडा लगाते समय फिसल कर गर्दन के बल गिरने से हुई है विडियो में देख सकते है!!”

   Courtesy: X/Vini__007

इसके अलावा, यह वीडियो वायरल दावे के साथ फ़ेसबुक पर भी वायरल है, जिसे आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

Fact Check/Verification

Newschecker ने सबसे पहले शुभकरण सिंह से जुड़ी ख़बर खंगाली. इस दौरान हमें आजतक की वेबसाइट पर 29 फ़रवरी 2024 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली. 

 Courtesy: AAJ TAK

रिपोर्ट के अनुसार, बीते 21 तारीख को खनौरी बॉर्डर पर हरियाणा पुलिस और किसानों के बीच हुए हिंसक टकराव में बठिंडा के बल्लों गांव के 22 वर्षीय किसान शुभकरण सिंह की मौत हो गई थी. जिसके बाद किसान संगठनों और प्रत्यक्षदर्शियों ने गोली लगने की वजह से मौत होने का दावा किया था. घटना के बाद किसान संगठनों ने मौत की जांच और एफआईआर दर्ज करने के बाद ही शव का पोस्टमार्टम और अंतिम संस्कार का फैसला किया था।. 

बाद में पंजाब पुलिस द्वारा जीरो एफआईआर दर्ज करने के बाद पटियाला के डॉक्टर्स ने शव का पोस्टमार्टम किया. इसके बाद 1 मार्च को उसका अंतिम संस्कार किया गया.

इसके अलावा, हमें दैनिक भास्कर की वेबसाइट पर भी 27 फ़रवरी 2024 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट में भी बताया गया था कि 21 फ़रवरी को शुभकरण सिंह की मौत खनौरी बॉर्डर पर हुई है.

 Courtesy: Dainik Bhaskar

जांच में हमें हिंदुस्तान टाइम्स की वेबसाइट पर भी 1 मार्च 2024 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट में बताया गया है कि शव परीक्षण के दौरान शुभकरण सिंह के सिर में धातु के छर्रे लगने की पुष्टि हुई है. इसके अलावा यह भी लिखा हुआ है कि उसके शरीर पर कोई अन्य चोट के निशान नहीं है.

 Courtesy: Hindustan Times

पड़ताल के दौरान हमें पत्रकार गुरशमशीर सिंह वराइच द्वारा 27 फ़रवरी 2024 को ट्वीट किया गया वीडियो भी मिला. इस वीडियो में उन्होंने उस जगह को दिखाया है, जहां शुभकरण सिंह को कथित तौर पर गोली लगी थी. साथ ही उन्होंने इस घटना के प्रत्यक्षदर्शियों से भी बातचीत की थी. अपने वीडियो में उनको साफ़ कहते हुए यह सुना जा सकता है कि “हम खनौरी बॉर्डर पर उस जगह खड़े हैं, जहां शुभकरण सिंह की मौत हुई थी”. इसके बाद उन्होंने प्रत्यक्षदर्शी सतपाल सिंह से घटना की अन्य जानकारी भी ली थी.

   Courtesy: X/gurshamshir

हमारी अभी तक की जांच में यह साफ़ हो गया था कि शुभकरण सिंह की मौत 21 फ़रवरी 2024 को खनौरी बॉर्डर पर हुई थी.

इसके बाद हमने ऊँचे साईन बोर्ड से गिरने वाले वायरल वीडियो की भी पड़ताल की. वीडियो के कीफ्रेम को रिवर्स इमेज सर्च करने पर हमें Anakh Punjab Di नाम के फ़ेसबुक पेज से 16 फ़रवरी 2024 को अपलोड किया हुआ वीडियो मिला. हालांकि, वीडियो के साथ मौजूद कैप्शन में कोई ख़ास जानकारी नहीं दी गई है. इसे सिर्फ शंभू बॉर्डर का वीडियो बताया गया है.

 Courtesy: FB/insanfamilyonly

इसके बाद हमने वीडियो को ध्यानपूर्वक देखा, लेकिन हमें ज्यादा ख़ास जानकारी नहीं मिली. साथ ही गूगल मैप्स की मदद से भी हमने शंभू बॉर्डर पर उक्त लोकेशन को खंगाला लेकिन गूगल मैप्स पर ज्यादा जानकारी नहीं मिली.

अब हमने शंभू बॉर्डर पर मौजूद किसान मजदूर मोर्चा के मीडिया को-ओर्डिनेटर महेश चौधरी से संपर्क किया. उन्होंने हमें वायरल वीडियो में दिख रहे लोकेशन वाली जगह का वीडियो भेजा. आप दोनों दृश्यों के बीच समानता को नीचे मौजूद तस्वीरों में देख सकते हैं. दोनों ही वीडियो में साईन बोर्ड के पास एक ही तरह के दृश्यों को देखा जा सकता है.

हालांकि, इस दौरान हम वायरल वीडियो में नीचे गिरने वाले युवक के बारे में पता नहीं लगा पाए.

जांच में हमने खनौरी बॉर्डर और शंभू बॉर्डर के बीच की दूरी का भी पता लगाया तो पाया कि दोनों के बीच करीब 115 किलोमीटर की दूरी है.

Conclusion

हमारी जांच में मिले साक्ष्यों से यह साफ़ है कि वायरल वीडियो शंभू बॉर्डर का है और यह वीडियो शुभकरण सिंह की मौत से करीब एक हफ्ते पहले से इंटरनेट पर मौजूद है.

Result: False

Our Sources
Article Published by Dainik Bhaskar on 27th feb 2024
Article Published by Hindustan Times on 1st March 2024
Article Published by AAJ Tak on 29th feb 2024
Video tweeted by journalist Gurshamshir Singh Waraich on 27th Feb 2024
Video posted by Anakh Punjab di facebook page on 16th feb 2024
Video Shared by KMM Media Co-ordinator Mahesh Chaudhary

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular