मंगलवार, जून 18, 2024
मंगलवार, जून 18, 2024

होमFact CheckFact Check: क्या चुनाव नतीजे आने से पहले ही मनोज तिवारी को...

Fact Check: क्या चुनाव नतीजे आने से पहले ही मनोज तिवारी को हो चुका है अपनी हार का आभास? यहां जानें वायरल वीडियो का सच

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

Claim

मनोज तिवारी ने लोकसभा चुनाव में नतीजे आने से पहले ही अपनी हार मान ली है।

Courtesy: X/@anjuydv

एक्स पोस्ट का आर्काइव यहाँ देखें। ऐसे अन्य पोस्ट यहाँ, यहाँ और यहाँ देखें।

Fact

वायरल क्लिप पर जिस्ट (Jist) का लोगो मौजूद होने के कारण हमने ‘मनोज तिवारी’, ‘जिस्ट’ और ‘इंटरव्यू’ जैसे कीवर्ड्स को गूगल सर्च किया। परिणाम में हमें ‘जिस्ट न्यूज़’ के यूट्यूब चैनल पर 31 मार्च 2024 को अपलोड किया यह वीडियो मिला।

इंटरव्यू में करीब 34 मिनट पर हमें वायरल क्लिप वाला हिस्सा नज़र आता है, जहाँ मनोज तिवारी कहते हैं कि ”देखो हमें अपनी हार का आभास तो हो गया था …।” इसका सन्दर्भ समझने के लिए हमने यह इंटरव्यू पूरा देखा।

वीडियो में करीब 27 मिनट पर पत्रकार अनिल शारदा मनोज तिवारी से सवाल पूछते हैं कि ”दिल्ली से पहले आप 2009 में योगी आदित्यनाथ के खिलाफ गोरखपुर से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़े थे, इस पर प्रकाश डालिये …” इसी का जवाब देते हुए मनोज तिवारी बताते हैं कि किस प्रकार उस समय तक उनकी कोई राजनीतिक कहानी नहीं थी और वह चुनाव उन्होंने अमर सिंह के कहने पर लड़ा था। उन्होंने बताया कि वे उस समय चुनाव नहीं लड़ना चाहते थे, पर जब अमिताभ बच्चन और अनिल अंबानी की मौजूदगी में अमर सिंह ने उन्हें चुनाव लड़ने के लिए कहा तो वे दृढ़ता से मना नहीं कर पाए। आगे वे कहते हैं उस दौरान गोरखपुर में सपा के कार्यकर्ता तक उनसे पूछ रहे थे कि यहाँ योगी जी के सामने कहाँ आ गये। मनोज तिवारी के अनुसार, सपा पदाधिकारी भी उनसे कह रहे थे कि अगल-बगल से लड़ते तो जीत जाते, यहाँ तो हम खुद आपको वोट नहीं देंगे। जिसके कारण वे चुनाव के दौरान गोरखपुर से मुंबई भी भाग गए थे। इसी क्रम में वे आगे कहते हैं ”देखो हमें अपनी हार का आभास तो हो गया था। पर दुःख ये होता था कि मैं बहुत दिनों से जीतता-जीतता-जीतता जा रहा था। मुझे लग गया था कि अब हार आ गयी।”

Courtesy: YT/Jist News

पड़ताल में आगे हमने मनोज तिवारी का यह इंटरव्यू लेने वाले जिस्ट न्यूज़ के पत्रकार अनिल शारदा से फ़ोन पर बात की। उन्होंने बताया कि वायरल वीडियो भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा कि इस दौरान मनोज तिवारी 2009 में सपा की टिकट से योगी आदित्यनाथ के खिलाफ लडे चुनाव का जिक्र कर रहे थे। अनिल शारदा ने बताया कि मनोज तिवारी बता रहे थे कि किस प्रकार वे अमर सिंह के कहने पर गोरखपुर से चुनाव में खड़े तो हो गए थे, लेकिन योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में योगी की लोकप्रियता सपा कार्यकर्ताओं तक थी। जिस कारण उन्हें अपनी हार का आभास चुनाव नतीजों से पहले ही हो गया था।

पढ़ें: Fact Check: दिल्ली में बिजली सब्सिडी बंद होने का दावा है फर्जी, आतिशी मार्लेना का अधूरा वीडियो हालिया दिनों का बताकर वायरल

हमारी जांच में मिले साक्ष्यों से यह साफ़ है कि मनोज तिवारी का अधूरा वीडियो भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

Result: Missing Context

Sources
Youtube video shared by Jist News on 31st March 2024.
Phonic Conversation with Journalist Anil Sharda.

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular