गुरूवार, जुलाई 29, 2021
गुरूवार, जुलाई 29, 2021
होमFact CheckWeekly Wrap: कोरोना संकट से लेकर 'ताऊ ते' तूफान तक, इस हफ़्ते...

Weekly Wrap: कोरोना संकट से लेकर ‘ताऊ ते’ तूफान तक, इस हफ़्ते सोशल मीडिया पर वायरल हुए टॉप 5 फेक दावों का Fact Check

सोशल मीडिया एक ऐसा माध्यम है जहां आये दिन फेक ख़बरों की भरमार रहती है। कई समसामयिक मामलों पर सोशल मीडिया यूजर भ्रामक या फिर गलत जानकारियां शेयर करते देखे जाते हैं। इस सप्ताह भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला। ‘ताऊ ते’ चक्रवात सहित कई अन्य मुद्दों पर यूजर्स ने इस सप्ताह गलत जानकारियां शेयर की थी। हमारी टीम ने सोशल मीडिया पर वायरल हुए कुछ ऐसे ही फेक दावों की पड़ताल करके उनका सच दुनिया के सामने रखा है।

यूपी बोर्ड द्वारा नहीं जारी किया गया परीक्षाओं का टाइम टेबल

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं का परीक्षा कार्यक्रम जारी हो चुका है। दावे के मुताबिक 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 5 जून से शुरू होंगी. 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं क्रमशः 22 जून और 25 जून को खत्म होंगी। वायरल दावा भ्रामक है।

पूरा फैक्ट चेक यहां पर पढ़ा जा सकता है।

क्या 18 जून तक कोरोना संक्रमण से मुक्त हो जायेगा भारत? जानिये सोशल मीडिया पर वायरल हुए दावे का सच

सोशल मीडिया पर TV9 के एक वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि 18 जून तक भारत कोरोना मुक्त हो जाएगा। जब हमने दावे की पड़ताल की तो पाया कि ये दावा गलत है। वीडियो तकरीबन एक साल पुराना है।

पूरा फैक्ट चेक यहां पर पढ़ा जा सकता है।

क्या गुजरात में आए ‘ताऊ ते’ तूफान का है ये वायरल वीडियो?

सोशल मीडिया पर मूसलाधार बारिश के एक वीडियो को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो गुजरात के सौराष्ट्र स्थित ऊना टाउन का है, जहां पर ‘ताऊ ते’ तूफान आया था। जब हमने वायरल दावे की पड़ताल की तो पाया कि ये वीडियो तकरीबन एक साल पुराना है।

पूरा फैक्ट चैक यहां पर पढ़ा जा सकता है।

क्या कोरोना संक्रमित शव को कंधे पर ढोने को मजबूर हुआ यह पुलिसकर्मी?

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में परिजनों ने शव को हाथ लगाने से भी इनकार कर दिया। जिसके बाद एम्बुलेंस उपलब्ध ना होने के कारण पुलिसकर्मी अपने कंधे पर शव को लेकर गया। जब हमने दावे की पड़ताल की तो पाया कि ये दावा गलत है। 

पूरा फैक्ट चेक यहां पर पढ़ा जा सकता है।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की पुरानी तस्वीर गलत दावे के साथ हुई वायरल

सोशल मीडिया पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की टैक्सी से नीचे उतरते हुए एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि यह उस समय की तस्वीर है जब मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार संसद भवन गए थे। जब हमने दावे की पड़ताल की तो पाया कि ये दावा भ्रामक है।

पूरा फैक्ट चेक यहां पर पढ़ा जा सकता है।


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular