शुक्रवार, मई 20, 2022
शुक्रवार, मई 20, 2022

होमFact CheckWeekly Wrap: पीएम मोदी की विदेश यात्रा और जोधपुर हिंसा सहित कई...

Weekly Wrap: पीएम मोदी की विदेश यात्रा और जोधपुर हिंसा सहित कई अन्य घटनाओं से सम्बंधित वायरल हुए टॉप 5 फेक दावों का फैक्ट चेक

पीएम मोदी की हालिया विदेश यात्रा को लेकर सोशल मीडिया एक पोस्ट तेजी से वायरल हुआ। दावा किया गया कि पीएम मोदी और जर्मन चांसलर की मुलाकात जिस कमरे में हुई, वहां देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर लगी हुई थी। इसके अलावा राजस्थान के कई इलाकों में सांप्रदायिक हिंसा की खबरों के बीच कई फेक दावे शेयर किए गए। इसी तरह कई अन्य घटनाओं के सम्बन्ध में भी कई भ्रामक दावे वायरल होते हुए देखे गए। इस सप्ताह वायरल हुए टॉप 5 फेक दावों की पड़ताल को इस लेख में पढ़ा जा सकता है।

हरियाणा में हुई मारपीट के वीडियो को राजस्थान का बताकर शेयर किया गया झूठा सांप्रदायिक दावा

जोधपुर में हुई हिंसा के बाद सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति की पिटाई का वीडियो वायरल हो गया। दावा किया गया कि मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों ने एक हिन्दू व्यक्ति की पीट पीटकर हत्या कर दी। हमारी पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित हुआ।

राहुल गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया की 10 साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ हुई वायरल

राहुल गांधी की नेपाल यात्रा के बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर दावा किया गया कि काठमांडू में आयोजित जिस शादी में राहुल गए थे, उसमें केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे। हमारी पड़ताल में यह दावा फर्जी साबित हुआ।

क्या असम में बांग्लादेशी मुस्लिमों ने अलग देश की मांग की है?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिए दावा किया गया कि असम में बांग्लादेशी मुस्लिमों ने अलग देश की मांग की है, जिसके बाद असम पुलिस ने मांग करने वालों के साथ मारपीट की। हमारी पड़ताल में यह दावा फर्जी साबित हुआ।

पीएम मोदी और जर्मन चांसलर की मुलाकात के दौरान कमरे में नहीं लगी थी जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर

विदेश यात्रा पर जर्मनी पहुंचे पीएम पीएम मोदी और जर्मन चांसलर की मुलाकात के दौरान एक तस्वीर वायरल हो गई। दावा किया गया कि जिस कमरे में दोनों की मुलाक़ात हुई थी वहां देश के पहले पीएम जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर लगी थी। हमारी पड़ताल में यह दावा फर्जी साबित हुआ।

दिल्ली के सोनिया विहार में दो परिवारों के बीच हुई मारपीट का वीडियो सांप्रदायिक एंगल के साथ शेयर किया गया

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर दावा किया गया कि दिल्ली के संगम विहार में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक हिन्दू परिवार को पीट दिया। हमारी पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित हुआ।

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular