मंगलवार, जून 18, 2024
मंगलवार, जून 18, 2024

होमFact CheckWeekly Wrap: ऋषि सुनक, दीवाली और टी-20 विश्वकप को लेकर इस हफ़्ते...

Weekly Wrap: ऋषि सुनक, दीवाली और टी-20 विश्वकप को लेकर इस हफ़्ते वायरल हुए टॉप 5 फेक दावों का फैक्ट चेक

ऋषि सुनक के ब्रिटेन का पीएम बनने के बाद कई फर्जी दावे शेयर होते देखे गए। सुनक की एक तस्वीर को शेयर कर दावा किया गया कि पीएम बनने के बाद उन्होंने ब्रिटेन की संसद के दरवाजे पर डीप जलाकर दिवाली मनाई। आतिशबाजी के एक वीडियो को शेयर कर दावा किया जाने लगा कि दिल्ली सरकार द्वारा पटाखों पर लगाए गए बैन के बावजूद लोगों ने जमकर पटाखे फोड़े। ऑस्ट्रेलिया में चल रहे टी-20 विश्वकप में ज़िम्बाब्वे के हाथों पाकिस्तान को मिली हार के बाद एक एंकर का वीडियो वायरल हो गया। दावा किया जाने लगा कि हार के बाद ज़िम्बाब्वे के एंकर ने पाकिस्तानी टीम का मजाक उड़ाया। इंडोनेशिया की करेंसी पर गणेश की तस्वीर छपे होने का दावा भी तेजी से वायरल हुआ। इसी तरह कई अन्य खबरों पर वायरल हुए फर्जी दावों का फैक्ट चेक, यहां पढ़ा जा सकता है।

दिवाली मना रहे ऋषि सुनक की पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर यह दावा किया गया कि ऋषि सुनक ने प्रधानमंत्री बनने की घोषणा के बाद ब्रिटेन की संसद के दरवाजे पर दीप जलाया। हमारी पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित हुआ।

आतिशबाजी का यह वायरल वीडियो दिल्ली का नहीं है

सोशल मीडिया पर पटाखे जलाए जाने का एक वीडियो शेयर कर दावा किया जाने लगा कि दिल्ली में दिवाली पर जमकर आतिशबाजी हुई। हमारी पड़ताल में यह दावा फर्जी साबित हुआ।

क्या क्रिकेट में हार के बाद ज़िम्बाब्वे के एंकर ने उड़ाया पाकिस्तान का मजाक?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर यह दावा किया गया कि जिम्बाब्वे के एक एंकर ने पाकिस्तान की हार का मजाक बनाया। हमारी पड़ताल में यह दावा फर्जी साबित हुआ।

इंडोनेशिया की करेंसी पर नहीं छपी है गणेश की तस्वीर

सोशल मीडिया पर एक नोट की तस्वीर के जरिए दावा किया गया कि इंडोनेशिया की करेंसी पर भगवान गणेश की तस्वीर छपी है। हमारी पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित हुआ। 

गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज नहीं है स्केच आर्टिस्ट नूरजहां का नाम

सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिए दावा किया जाने लगा कि एक युवती ने एक हाथ से एक समय में 15 महापुरुषों का स्केच बनाकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज कराया है। हमारी पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित हुआ।

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular